‘गरीब मरीजों के लिए गांव-गांव पहुँचकर दवाइयां देती हैं ये डाॅक्टर’

आंध्र प्रदेश: अपनी व्यस्त दिनचर्या से रविवार को छुट्टी लेकर आंध्र प्रदेश के नेल्लूर जिले की डॉक्टर बिंदु मेमन इंसानियत भरा काम कर रही है। डॉक्टर मेमन छुट्टी वाले दिन रविवार को जिले के किसी एक गांव में अपनी वैन के साथ पहुंचकर। वहां स्नायु तंत्र से जुड़ी जटिल बीमारियों को लेकर फैले भ्रम को दूर करने के साथ ही उनकी जांच कर जानकारी और दवाइयां भी देती हैं।

मीडिया में छपी खबरों के अनुसार, डॉक्टर मेमन अपनी इस पहल के बारे में जानकारी देते हुए कहती हैं कि जब मैं भोपाल में मेडिकल की पढ़ाई करती थी उस समय स्नायु तंत्र से जुड़ी बीमारियों को लेकर भ्रम और अंधविश्वास के बारे में जानकार काफी हैरानी होती थी। इसलिए उन्होंने इस क्षेत्र में विशेषज्ञता हासिल करने का निश्चय किया था।

उनका कहना है कि मस्तिष्क आघात और मिर्गी जैसी बीमारी को लेकर दूरदराज गांवों में आज भी जानकारी के अभाव में भ्रम फैला हुआ है। जादू टोना आसमानी हवा और देवी आने जैसे अंधविश्वास से जोड़कर देखा जाता है।

मेमन ने कहा कि उनके इस अभियान के लिए रविवार को एक गांव का चयन पहले ही पूरा कर लिया जाता है और गांव के मुखिया या प्रमुख के माध्यम से पूरे गांव को वैन के आने की दिनांक और जगह की जानकारी दे दी जाती है। कहा कि उनके पहुंचने से पहले ही सुबह लगभग डेढ़ सौ लोग गांव की चौपाल पर इकठ्ठे हो जाते हैं और सभी जरूरी जानकारी बड़े गौर से सुनते हैं।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …