पुलवामा हमले में शहीद की बेटियों को इस मुस्लिम महिला IAS ने लिया है गोद, उठाती है सारा खर्चा, लोगों ने की तारीफ

0

14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ काफिले पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान से ज्यादा शहीद हुए थे जिसकी आज पहली बरसी है।जिसके बाद से देश में गुस्से और गम का माहौल था। जिसके बाद से कई संगठनो के अलावा देश की जनता शहीदों के परिजनों की आर्थिक मदद करने के लिए आगे आयी थी।

इसी में एक और नाम डीएम इनायत खान का जुड़ गया था। बिहार के शेखपुरा जिले की डीएम इनायत खान ने बिहार के 2 शहीद हुए जवानो की बेटियों को गोद लेने का फैसला किया था।

जिसके बाद से डीएम इनायत खान चर्चा में आ गई है साथ ही शहीद के परिवार वालो को अपने दो दिन का वेतन दान देने का ऐलान किया था। साथ ही जिले के सभी सरकारी कर्मचारियों से अपील की थी की वह दोनों शहीदों के परिवार वालो को अपने एक दिन का वेतन दान करें।

खबर के अनुसार, डीएम इनायत खान ने बिहार के रतन कुमार ठाकुर और संजय कुमार सिन्हा जो पुलवामा हमले में शहीद हो चुके थे उनकी बेटियों को गोद लेने का फैसला किया था। जिसमे उनकी पढ़ाई लिखाई से लेकर अन्य दूसरे खर्चों का भी ख्याल रखेंगी।

डीएम ने जानकारी देते हुए बताया था की, बिहार के 2 शहीद जवानों परिवार वालो को आर्थिक मदद देने के लिए शेखपुरा में एक बैंक खाता भी खोला गया है। इकठ्ठा हुए राशि को दोनों शहीद परिवारों में बराबर बाटा जायेगा। बतादे की केन्द्र सरकार ने साल 2017 में शहीदों के परिवार वालो को आर्थिक मदद देने के लिए ‘भारत के वीर’ नाम की वेबसाइट और मोबाइल एप लॉन्च किया था। जिसमे देश के लोगो ने बढ़ चढ़कर दान किया था।