महाराष्ट्र में कोरोना संकट के बीच बाघ का कहर, गढ़चिरौली में महिला को मारा, 15 दिन में 5वां हमला

कोरोना संकट के साथ ही महाराष्ट्र के जंगलों में इन दिनों बाघ का कहर देखने को मिला है, यहां एक नक्‍सल प्रभावित गढ़चिरौली जिले में इंजेवारी वन्य क्षेत्र में शुक्रवार सुबह को बाघ ने एक 52 साल की महिला पर हमला किया, जिसके बाद महिला की मौत हो गई। कहा जा रहा है कि, पिछले 15 दिनों में बाघ ने यह पांचवां हमला किया है।

न्यूज़18 में छपी खबर के अनुसार एक अधिकारी ने कहा कि, पिछले कुछ हफ्तों में इस क्षेत्र में बाघ के हमलों की कई घटनाएं हुई हैं. जिले के अरमोरी तालुका में बीते दस दिन में यह दूसरी घटना थी. उन्होंने कहा, ‘गणेशपुर की रहने वाली सिंधु बोरकुट को जंगल में सुबह 10 बजे एक बाघ ने हमला कर मार डाला। घटना के संबंध में आगे की कार्रवाई के लिए वन विभाग की एक टीम घटना स्थल पर मौजूद है.

अधिकारी ने बताया कि 19 अप्रैल को भंडारा में बाघ के हमले में एक महिला की जान चली गई थी जबकि 18 अप्रैल को तिरोरा वन क्षेत्र में भी इसी तरह की घटना में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी. 16 अप्रैल को जिले के अरमोरी इलाके और 13 अप्रैल को पेंच के जंगल के पास में बाघ के हमले में एक-एक व्यक्ति मारा गया था.

वहीं दूसरी ओर शुक्रवार को दिल्ली के चिड़ियाघर में किडनी फेल होने से एक उम्रदराज सफेद बाघिन की मौत हो गई। अधिकारीयों ने बताया कि वह अचानक मंगलवार को बीमार हुई और बुधवार को उसकी मौत हो गई। बाघिन की उम्र 14 साल थी, जिसका नाम कल्पना था। मौत के बाद उसका सैंपल कोविड-19 वायरस के परीक्षण के लिए भेजा गया है।

चिड़ियाघर निदेशक ने बताया है कि, मंगलवार को अचानक बाघिन कल्पना की तबीयत खराब हुई थी, जिसके बाद उसने खाना-पीना बंद कर दिया. कल्पना के इलाज में तीन डॉक्टर लगे हुए थे. उसके बाद देश के सबसे बड़े डॉक्टर और टाइगर विशेषज्ञ एपी श्रीवास्तव से वीडियो कॉल के जरिए मदद ली गई, लेकिन हम उसे बचा नहीं पाए.

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …