समय हुआ ख़त्म, बैंकों के सभी कामकाज रुके, 8 जनवरी को बैंकों की हड़ताल

अगर आप का बैंक का कोई कामकाज रुका हुआ है तो अलर्ट हो जाइए। जल्द से जल्द अपने सारे काम निपटा लीजिए, खबर है कि बैंको की हड़ताल होने वाली है। मीडिया में छपी खबर के अनुसार 8 जनवरी को बैंकों की हड़ताल हो सकती है। हड़ताल होती है तो बैंक में लेनदेन का काम प्रभावित हो सकता है। बैंकिंग सेक्टर केंद्रीय ट्रेड यूनियनों ने 8 जनवरी को हड़ताल का फैसला लिया है।

इस मामले में अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ के एक नेता ने कहा कि इस हड़ताल का समर्थन 10 यूनियन कर रही हैं। अखिल भारतीय बैंक कर्मचारी संघ के महासचिव सीएच वेकंटचलम के मुताबिक सरकार की नीतियों का विरोध करने के लिए हड़ताल की जाएगी। बैंको की इस हड़ताल में रोजगार के नए अवसर पैदा करने, श्रम कानूनों में संशोधन पर रोक लगाने और नौकरी की सुरक्षा संबंधी मांगें रखी जाएंगी।

बैठक के दौरान मंत्री ने संगठनों से बताया कि सरकार कर्मचारियों के हित में हर कदम उठा रही है और श्रम कानून इसी का हिस्सा हैं। इन संगठनों में एआईटीयूसी, एचएमएस, सीटू, एआईयूटीयूसी, सेवा, एआईसीसीटीयू, एलपीएफ और यूटीयूसी शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि कर्मचारियों को गुलाम बनाने के लिए श्रम संहिता तैयार की गई है। कहा कि केद्रीय मंत्री ने बेरोजगारी, न्यूनतम वेतन, सामाजिक सुरक्षा और 14 सूत्रीय मांगों को पूरा करने के संबंध में कुछ भी नहीं कहा। इस मामले में भारत के सबसे बड़े बैंक RBI समेत सभी सरकारी बैंकों में भी 8 जनवरी को हड़ताल रहेगी। RBI के कर्मचारियों ने वर्षों से लंबित मांगों के पूरा न होने पर हड़ताल का समर्थन किया। इस हड़ताल से बैंकिंग संबंधी सभी तरह के कामकाज बंद रहेंगे।

श्रम मंत्री के साथ बातचीत के एक दिन बाद शुक्रवार को 10 केंद्रीय कर्मचारी संगठनों ने सरकार की ‘श्रम विरोधी नीतियों के विरोध’ में 8 जनवरी को आम हड़ताल या ‘भारत बंद’ का एलान किया है। 10 केंद्रीय कर्मचारी संगठनों ने संयुक्त बयान में बताया, ‘केंद्रीय श्रम मंत्री से मुलाकात के बाद उन्होंने एकजुट होकर 8 जनवरी को आम हड़ताल का फैसला लिया है।’

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …