गरीबों की मदद के अपने घर को गोदाम बनाया, दान किया 10 हजार किलो चावल और 700 किलो आलू

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलो के बीच लोगों की मानवता जाग रही है। देशभर से कई लोग जरूरतमंदों की मदद करते हुए दिखाई दे रहे हैं। जिसमे कई इंडियन क्रिकेटर भी शामिल हैं। यूसुफ पठान और इरफान पठान भी काफी चर्चाओं में हैं। पहले 4 हजार मास्क दान कर पठान बंधुओं ने सभी का दिल जीता था और फिर एक बार इन दोनोंं भाइयों ने गरीबों की मदद कर सभी के दिलों में जगह बना ली है।

अब इन्होने 10 हजार किलो चावल और 700 किलो आलू गरीबों के लिए दान किए हैं। कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों के चलते देश के पीएम ने 14 अप्रैल तक के लिए पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया है और इससे रोज कमाकर खाने वाले लोगों के सामने संकठ की स्थिति आ गई है।

इस बीच पठान बंधु जैसे लोग इन लोगों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं और उनके लिए खाना उपलब्ध करते हुए दिखाई दे रहे हैं। दोनों भाई दवारा गरीबों के लिए 10,000 किलो चावल और 700 किलो आलू का प्रबंध करने के साथ साथ इरफान और यूसुफ लोगों के बीच जागरुकता फैलाने का काम भी कर रहे हैं।

इरफान पठान ने अपने ट्विटर पर लिखा “इंसान का सबसे बड़ा खौफ भविष्य को लेकर होता है। आज में जीना शुरू करिए आपकी सभी मुश्किलें पहले ही खत्म हो जाएंगी। कोरोना वायरस को लेकर जागरुकता फैलाएं, अफवाह नहीं।” इससे पहले भी यूसुफ पठान और इरफान पठान ने 400 मास्क दान किए थे।
इससे पहले भी इरफान गरीबों की मदद के लिए आगे आते रहे हैं। भारतीय टीम में आने से पहले पठान बंधुओं ने भी गरीबी देखी है और वो इसका मतलब समझते हैं। यही वजह है कि ये दोनों भाई कभी भी दान करने से पीछे नहीं हटते।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …