तुर्की राष्ट्रपति एर्दोगन ने अमेरिका को दी चेतावनी- सीरिया मामले पर पुतिन से करेंगे सीधी बातचीत

0
70
Loading...

सीरिया के हालात पर तुर्की के अपने समरूप मेवलुत कावुसोग्लू के साथ अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो द्वारा फ़ोन पर बातचीत के बाद अब तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन तथा रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सीरिया मसले पर बुधवार को मॉस्को में बातचीत करेंगे।

तुर्की ने कहा की वह अंकारा के ‘‘सुरक्षा क्षेत्र’’ उत्तरी सीरिया पर अपना ध्यान लगाएंगे। सोमवार को तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने कहा की वह रूस के राष्ट्रपति के साथ उत्तरी सीरिया में एक तुर्की-कण्ट्रोल “सुरक्षा इलाका” के बनाने पर बात करेंगे। जो अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने संकेत दिया था।

साथ ही एर्दोआन ने अमेरिका द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों पर कहा की तुर्की ‘‘आर्थिक तख्तापलट की कोशिश’’ के खिलाफ दृढ़ता के साथ खड़ा है। आज अंकारा में हजारों समर्थकों को एर्दोआन से संदेश दिया की तुर्की को ‘‘अर्थव्यवस्था, प्रतिबंधों, विदेशी मुद्रा, ब्याज दरों और महंगाई से डराया’’ जा रहा है।

उन्होंने आगे कहा की ‘‘हम उन्हें बताते हैं कि हमने उनका खेल देखा है और हम उन्हें चुनौती देंगे.’’ बतादे की अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने तुर्की पर प्रतिबंध लगाए हैं और धमकी दी है कि अगर नजरबंद किए गए अमेरिकी पादरी को छोड़ा नहीं किया गया तो उस पर और कई प्रतिबंध लगाए जाएंगे।

बतादे की अमेरिकी प्रतिबंध के चलते तुर्की की मुद्रा लीरा इस साल के शुरुआत से डॉलर के मुकाबले 38 फीसदी तक गिर चुकी है। और लीरा इस हफ्ते 7.24 के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई।

Loading...