बाइक पर 22 किलोमीटर युवती का शव लेकर गए दो युवक, सुचना के बाद भी पुलिस ने नहीं रोका

0
630
Loading...

राजस्थान के बहरोड़ अलवर के एनएच-48 हाईवे पर सोमवार को बाइक से एक युवती का शव ले जाते देखा गया। मिली जानकारी के अनुसार, शव को कोटपूतली से बहरोड़ तक करीब 22 किमी बाइक से ले जाया गया। इस बात की सुचना जयपुर की तरफ जा रही एक लड़की ने पुलिस और हाइवे पेट्रोलिंग को दी थी लेकिन किसी ने ध्यान नहीं दिया।

रवीना बताती है की ” वो कार से दिल्ली से जयपुर जा रही थी। मैंने देखा बाइक पर सवार दो लोग एक युवती को ले जा रहे हैं। युवती ने चप्पल नहीं पहनी थी। शरीर निढाल था। मुझे लगा कि अपहरण का मामला है। इसलिए तुरंत हाईवे पर खड़ी कोटपूतली क्षेत्र पुलिस को इस बारे में बताया, लेकिन पुलिसकर्मियों ने कहा- यहां तो यह चलता रहता है। आप जाओ।”

रवीना ने आगे बताया की, “पुलिस का रवैया देख मैंने कार से बाइक का पीछा किया। बहरोड़ क्षेत्र में गांव जैनपुरबास और पहाड़ी के बीच देवस्थली स्कूल के सामने बाइक को रोक लिया। हाइवे पुलिस को भी सूचित कर दिया, लेकिन बहरोड़ से हाईवे पेट्रोलिंग पुलिस पहुंचने से पहले ही बाइक सवार युवक यह कहते हुए चले गए कि यह हमारे परिवार की है। बेहोश हो गई है, इलाज के लिए ले जा रहे हैं।”

जब इसके बारे में बबेड़ी क्षेत्र में जांच पड़ताल की गयी तो पता चला युवती की मौत हो चुकी है। इसके बाद जब हाइवे पेट्रोलिंग पुलिस मौके पर पहुँची तो मालूम हुआ की वे मुस्लिम परिवार यूपी का रहने वाला है। जो युवती को कोटपूतली लेकर इलाज कराने गए थे। जहाँ उसकी मौत हो गयी। मौत हो जाने पर युवती को युवक बाइक पर ही लेकर जा रहे थे।

हाइवे पेट्रोलिंग भी बानसूर थाना क्षेत्र का मामला बताते हुए बिना बानसूर पुलिस को सुचना दिए वहां से लौट गयी। एनएच-8 हाइवे के बहरोड के कार्यवाहक इंचार्ज सतीश कुमार ने बताया की जयपुर निवासी रवीना ने किसी बाइक पर दो युवको द्वारा युवती के अपहरण होने की जानकारी दी थी। पता करने पर मालूम हुआ की युवती को इलाज के लिए कोटपूतली लेकर गए थे रास्ते में मौत हो जाने पर बाइक पर ही वापस घर ले जा रहे थे।

Loading...