Image Credit-ANI

‘एनकाउंटर से नाखुश ओवैसी कहा- ह्यूमन राइट्स ने भी एनकाउंटर का लिया संज्ञान’

हैदराबाद: हैदराबाद में वेटनरी महिला डॉक्टर से गैंगरेप के बाद हत्या और शव जलाने के मामले में चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया है। मिली जानकारी के अनुसार चारों आरोपियों को पुलिस गुरुवार देर रात उनकी नज़र से पूरे घटना को समझने के लिए घटनास्थल पर ले गई। लेकिन इसी दौरान सभी आरोपी पुलिस की गिरफ्त से भागने की कोशिश की, जिसके बाद पुलिस को उन पर गोली चलानी पड़ी।

जहाँ पूरा देश साइबराबाद पुलिस की तारीफ कर रहा है। वही हैदराबाद के सांसद और एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने इस एनकाउंटर का विरोध किया है। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार, “मैं एनकाउंटर के खिलाफ हूं। यहां तक कि, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी एनकाउंटर का संज्ञान लिया है।”

बता दें कि साइबराबाद पुलिस के कमिश्नर वी. जे. सज्जनार। वही आरोपियों के एनकाउंटर को लेकर मीडिया से बात करते हुए कमिश्नर वी. जे. सज्जनार ने कहा की, “मैं केवल यह कह सकता हूं कि कानून ने अपना कर्तव्य निभाया है।”

पुलिस द्वारा सभी आरोपियों का एनकाउंटर हैदराबाद राष्ट्रीय राजमार्ग 44 पर शुक्रवार सुबह तड़के 3 बजकर 30 मिनट पर हुआ। पुलिस द्वारा चारों आरोपियों के एनकाउंटर की खबर से पीड़िता का परिवार खुश है पिता ने न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा कि, “मेरी बेटी की मृत्यु हुए 10 दिन हो चुके हैं। मैं इसके लिए पुलिस और सरकार के प्रति आभार व्यक्त करता हूं। मेरी बेटी की आत्मा अब शांति से होनी चाहिए।”

गौरतलब है कि 27 नवंबर को हैदराबाद के साइबराबाद टोल प्लाजा के पास महिला डॉक्टर की अधजला शव मिला था। इन सभी आरोपियों ने महिला डॉक्टर की स्कूटी पंचर होने के बाद मदद के बहाने गैंगरेप कर हत्या कर शव को जला दिया था।

Check Also

चीन से होगी आज अहम बातचीत, TikTok सहित 59 ऐप्‍स बैन लेकिन PAYTM, VIVO, OPPO बैन क्यों नहीं

प्रधानमंत्री आज देश को छठी बार संबोधित करने वाले हैं, जानिए कि चीन की 59 …