UP: सरकारी जिला अस्पताल में नहीं मिली एम्बुलेंस, ठेले पर घर ले जानी पड़ी महिला की लाश

उत्तर प्रदेश के संभल जिले के सरकारी जिला अस्पताल से बड़ी लापरवाही सामने आई है। जहां एक बुजुर्ग महिला की लाश को परिवार वाले ठेले पर ले जाने के लिए मजबूर हुए। उन्हें जिला अस्पताल प्रशासन की तरफ से कोई एंबुलेंस मुहैया नहीं कराई गई।

मीडिया में छपी खबरों के अनुसार, बुजुर्ग महिला की अचानक तबीयत बिगड़ने पर उसे जिला अस्पताल लाया गया था लेकिन बुजुर्ग महिला को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। बुजुर्ग महिला का कोरोना की आशंका की वजह से अस्पताल में ट्रू नेट मशीन से कोविड-19 परीक्षण भी किया। रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद महिला के शव को घर ले जाने के लिए कहा।

वही परिजन जब ठेले पर बुजुर्ग महिला के शव को लेकर जा रहे थे कुछ लोगों ने इसका वीडियो अपने फोन में बनाया था। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद अब अस्पताल प्रशासन इस मामले की जांच कराने की बात कह रहा है। बता दें कि जिला अस्पताल की इस लापरवाही का वीडियो शुक्रवार को दोपहर लगभग 3 बजे का बताया जा रहा है।

बरेली सराय के रहने वाले प्रेमपाल ने बताया कि उनकी सास जानकी देवी जो बिलारी की रहने वाली है उनके ससुर की मौत के बाद संभल में रहती थी। शुक्रवार को अचानक तबीयत बिगड़ने पर किसी वाहन की व्यवस्था ना हो पाने पर ठेले पर ही अस्पताल लाया लेकिन यहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

मामला प्रकाश में आने पर सीएमएस संभल डॉक्टर ए के गुप्ता ने कहा कि इस मामले की जांच कराई जाएगी। हालांकि जिला अस्पताल से ठेले पर शव ले जाने की उन्हें जानकारी नहीं है पीड़ित परिवार से पता किया जाएगा कि उन्होंने एम्बुलेंस की मांग की थी या नहीं।

Check Also

दुर्दांत अपराधी विकास दुबे को पकड़ने के लिए चारो जनपद में चल रहा चेकिंग अभियान, SSP गोरखपुर खुद सड़क पर उतरे

उत्तर प्रदेश: पुलिस कर्मियों का हत्यारा अभी भी फरार, दुर्दांत अपराधी विकास दुबे अभी भी …