US Capitol Violence: हिंसक हुए ट्रंप समर्थक, अमेरिकी संसद में खूनी प्रदर्शन, हिंसा में 4 की मौत

बुधवार को वाशिंगटन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के समर्थकों द्वारा हिंसा देखने को मिली। हथियारबंद ट्रंप के समर्थक यूएस कैपिटल (US Capitol) बिल्डिंग की सुरक्षा में सेंध लगाते हुए यूएस कैपिटल बिल्डिंग में घुस गए। इस हिंसक प्रदर्शन में चार लोगों की मौत होने की सूचना है। वही हालात को काबू करने के लिए कैपिटोल परिसर में नेशनल गार्ड की तैनाती कर दी गई है वाशिंगटन डीसी (Washington DC) के महापौर ने हिंसक प्रदर्शन को देखते हुए कर्फ्यू लगा दिया है।

मीडिया में छपी खबरों के अनुसार, अमेरिकी सांसदों ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों के भारी विरोध के बीच राष्ट्रपति चुनाव में जीते जो बाइडेन (Joe Biden) की जीत की पुष्टि करने के लिए बुधवार को एक बैठक बुलाई थी। बतादें कि कांग्रेस के संयुक्त सत्र में चुनाव में कालेज की वोटों की गिनती और जीत की पुष्टि होनी है। तो वही ट्रंप के समर्थकों ने अपनी हार के खिलाफ रैली के लिए वाशिंगटन डीसी में जुटना शुरू कर दिया था। इसके बाद ट्रंप समर्थकों ने यूएस कैपिटोल बिल्डिंग के बाहर खूब हंगामा किया और जमकर नारेबाजी भी की।

हिंसक प्रदर्शन के बीच जो बाइडेन ने ट्वीट कर कहा कि डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रीय टेलीविजन पर आकर अपने समर्थकों से यूएस कैपिटोल की घेराबंदी को समाप्त करने तथा यहां से वापस चले जाने के लिए कहे। वहीं इस पूरे हंगामे पर हिलेरी क्लिंटन ने कहा कि आतंकवादियों ने लोकतंत्र की नींव पर हमला किया है।

न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार, पुलिस ने बताया कि इस हिंसक प्रदर्शन में चार लोगों की मौत हो गई क्योंकि ट्रम्प समर्थकों ने वाशिंगटन डीसी में यूएस कैपिटल पर कब्जा कर लिया था। एक महिला को अमेरिकी कैपिटल पुलिस ने गोली मार दी थी क्योंकि भीड़ ने एक बैरिकेड के दरवाजे को तोड़ने की कोशिश की, और तीन की मेडिकल आपात स्थिति में मौत हो गई।

यूएस कैपिटल बिल्डिंग में हथियारबंद ट्रम्प समर्थक के घुसने तथा हिंसक प्रदर्शन को लेकर दुनिया भर के कई नेताओं ने चिंता व्यक्त की है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने अपने ट्वीट में कहा कि, “वाशिंगटन डीसी में दंगों और हिंसा के बारे में समाचार देखकर दुखी हूं। क्रमबद्ध और शांतिपूर्ण तरीके से सत्ता का हस्तांतरण जारी रहना चाहिए। लोकतांत्रिक प्रक्रिया को गैरकानूनी विरोध के माध्यम से विकृत नहीं होने दिया जा सकता है।”

Check Also

भारत को परमाणु बम से उड़ाने वाले पाकिस्‍तानी रेल मंत्री को हुआ कोरोना

पाकिस्तान: भारत को परमाणु बम से उड़ाने की धमकी देने वाले पाकिस्तानी रेल मंत्री शेख …