VIDEO: संजय दत्त ने सुनाया अपनी जिंदगी का ड्रग की लत का दर्दनाक किस्सा, ‘सुबह उठा तो नाक, मुंह से निकल रहा था खून’

बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त अक्सर अपनी निजी ज़िन्दगी को लेकर चर्चाओं में रहे हैं, साल 2018 में आई उनकी बायोपिक ‘संजू’ ने भी हमें बहुत सी पर्सनल बातों से अवगत करवाया था। चाहे उनकी ड्रग्स की लत हो या आतंकवाद से जुड़ा इल्ज़ाम संजय दत्त हमेशा कई बातों को लेकर चर्चाओं में रहे हैं।

इस वक्त जब बॉलीवुड इंडस्ट्री पर भी लॉकडाउन की मार पड़ी है, तो बहुत से पुराने वीडियोज़ वायरल हो रहे हैं। ऐसा ही एक वीडियो संजू बाबा का भी वायरल हुआ है। इस वीडियो में संजय दत्त एक स्टेज पर दिखाई दे रहे हैं। यह स्टेज एक ‘ड्रग्स अवेयरनेस’ इवेंट का था। संजय दत्त के लुक के हिसाब से ऐसा लग रहा है कि ये वीडियो 2012 से लेकर 2014 के आसपास का है।

वीडियो में संजय दत्त अपनी निजी ज़िंदगी के उस दौर के बारे में बात कर रहे हैं, जब वो ड्रग एडिक्ट थे। संजय वो किस्सा सुनाते दिखाई दे रहे हैं जब उनकी मां नरगिस दत्त की मृत्यु हो चुकी थी। उस दौरान संजू लगातार ड्रग्स लेते थे। एक सुबह वो उठे तो उनके घर काम करने वाले एक हेल्पर ने बताया कि, वो दो दिन से बिना कुछ खाये-पिये सिर्फ सो रहे थे।

View this post on Instagram

Here is #sanjaydutt taking about his drugs addiction and how his dad got him out of it. When a drug peddler again approached him again, it was his one second decision which changed his life #Throwback #drugsaddiction #viralbhayani @viralbhayani

A post shared by Viral Bhayani (@viralbhayani) on

संजय इस इवेंट में बताते हैं, ‘मैं बिल्कुल मरने की कगार पर था। बाथरूम में गया तो देखा मेरे नाक और मुंह से खून निकल रहा है। वो देखकर मैं डर गया और सुबह 7 बजे ही मैं दत्त साहब (संजय के पिता सुनील दत्त) के पास गया। मैंने उनको बताया कि मुझे मदद की ज़रूरत है, मैं ड्रग्स पर हूं।’

वीडियो में संजय दत्त बता रहे हैं कि, वो कुछ खुश किस्मत लोगों में से थे जिनको मदद मिली। उनके पिता सुनील दत्त ने उन्हें अमेरिका में रिहैब में रखा। संजय ने बताया कि वहां रहते हुए कई बार उन्हें ड्रग्स की तलब होती थी लेकिन उन्होंने कसम खाई थी कि वो अब कभी ड्रग्स को हाथ नहीं लगाएंगे।

वो बताते हैं कि जब वो रिहैब से भारत आये, एक आदमी उनसे मिलने आया। वो आदमी उनका ड्रग सप्लायर था और वो उन्हें फ्री में एक नया सैंपल दे रहा था। ‘वो बहुत मुश्किल फैसला था, क्योंकि उस सेकंड में मुझे तय करना था कि मैं वो लूं या ना लूं।’ संजय आगे बताते हैं, ‘लेकिन उस एक पल में मैंने तय किया कि ज़िंदगी में कभी ड्रग्स नहीं करूंगा।’

बॉलीवुड अभिनेत्रा संजय दत्त की ज़िंदगी का ये पूरा किस्सा हमें उनकी बायोपिक ‘संजू’ में देखने को मिलता है।

Check Also

महिलाओं के साथ बॉलीवुड में भेदभाव के सवाल पर काजोल ने तोड़ी चुप्पी, जानें- क्या कहा

फिल्म इंडस्ट्री में ज्यादा उम्र होने पर एक्ट्रेस के लिए काम के मौके कम होने …