विंग कमांडर अभिनंदन ने गिरते ही पूछा था, ‘मैं कहां हूं?’, पाकिस्तानी लड़को ने झूठ बोला कहा ये यह इंडिया है और फिर….

भारतीय वायुसेना के पायलट अभिनंदन से पाकिस्तान के लड़को ने झूठ कहा की यह इंडिया है। उसके बाद उन्होंने पायलट अभिनंदन को पकड़ लिया था। इस बात की जानकारी खुद पाकिस्तान के ही एक चश्मदीद ने दी है। पाकिस्तानी अखबार द डॉन के अनुसार, आईविटनेस ने बताया की विंग कमांडर अभिनंदन जमीन पर गिरते ही पूछा था, ‘‘मैं कहां हूं?’’ जिस पर पाकिस्तानी लड़कों ने झूठ बोलते हुए कहा था की ये इंडिया है। जिसके बाद लड़को ने पायलट को पकड़ लिया था।

गौरतलब है की भारत-पाक सीमा पर तनाव के बीच बुधवार को पाकिस्तानी लड़ाकू विमान F-16 भारतीय सीमा में घुस आया था। जिसको भगाने के लिए पायलट अभिनंदन ने मिग 21 लेकर दौड़ाया था। उन्होंने एक पाकिस्तानी लड़ाकू विमान F-16 मार भी गिराया था। लेकिन वो एलओसी के पार चले गए थे। जहाँ पाकिस्तानी सेना ने मिग 21 मार गिराया था और विंग कमांडर अभिनंदन को गिरफ्तार कर लिया था।

पीओके में मुजफ्फराबाद स्थित होरा गांव के मोहम्मद रज्जाक चौधरी इस पूरी घटना के आईविटनेस ने बताया की, ‘‘बुधवार सुबह करीब 8:45 बजे मैंने धमाके की आवाज सुनी और धुआं देखा। मुझे लगा कि कुत्तों को भगाने के लिए यह धमाका किया गया है। उसी दौरान 2 एयरक्राफ्ट में आग लगी नजर आई, जिनमें से एक एलओसी के पास गिर गया। वहीं, आग की लपटों से घिरा दूसरा विमान तेजी से आगे आ गया। इस विमान का मलबा मेरे घर से करीब एक किलोमीटर दूर पूर्वी दिशा में गिरा। इसके बाद मैंने एक पैराशूट मैदान में उतरते देखा, लेकिन यह दक्षिण दिशा की तरफ था।’’ बतादे की पायलट अभिनंदन मिग 21 विमान लेकर एलओसी से करीब 7 किलोमीटर दूर पीओके में पहुँच गए थे।

चश्मदीद मोहम्मद रज्जाक के अनुसार, ‘‘मैंने फोन करके मामले की जानकारी द डॉन अखबार को दी। साथ ही, गांव के लड़कों से कहा कि पाकिस्तानी सेना के आने तक वे विमान के मलबे के पास नहीं जाएं। इस दौरान उन्होंने पायलट को पकड़ लिया।’’ चश्मदीद ने आगे कहा, ‘‘पायलट ने लड़कों से पूछा कि मैं कहां हूं। उनमें से एक ने चालाकी दिखाते हुए जवाब दिया कि यह भारत है। इसके बाद पायलट जोर-जोर से भारत समर्थित नारे लगाने लगा। उसने लड़कों से दोबारा पूछा कि यह भारत में कौन-सी जगह है? ऐसे में जवाब मिला कि यह किला है। पायलट ने बताया कि उसकी कमर में चोट लगी है और पीने के लिए पानी मांगा।’’

चश्मदीद मोहम्मद रज्जाक चौधरी ने आगे बताया की, ‘‘भारत समर्थित नारे सुनकर कुछ लड़के नाराज हो गए और पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने लगे। यह सुनकर भारतीय पायलट ने अपनी सर्विस पिस्टल निकाल ली। वहां से दूर भागना शुरू कर दिया। ऐसे में पाकिस्तानी लड़कों ने उन पर पत्थराव किया और पकड़ लिया। इसके बाद अभिनंदन के साथ मारपीट की गई। फिर पाकिस्तानी सेना के कुछ लोग आए जो अभिनंदन को अपने साथ ले गए।’’

Check Also

बिहार में जेल से शराब सिंडिकेट चला रहे कुख्यात अपराधी, केस दर्ज होने के बाद कटघरे में जेल प्रशासन 

बिहार में शराबंदी को लेकर मामला फिर चर्चा में आ गया है। अभी एक्साइज एसपी …