UP में कोरोना से महिला सिपाही की मौत, 4 दिन पहले बच्ची को दिया था जन्म, घंटो गाड़ी में पड़ा रहा शव

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं ऐसे में आगरा में कोरोना से संक्रमित महिला सिपाही की मौत की खबर सामने आई है। मिली जानकारी के अनुसार महिला सिपाही की मौत बुधवार को हुयी है अभी 4 दिन पहले महिला सिपाही ने एक बेटी को जन्म दिया था।

उसी समय महिला सिपाही का कोरोना जाँच के लिए सैंपल लिया गया था लेकिन उससे पहले ही महिला सिपाही की मौत हो गई। मौत के बाद उसकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आयी है। जब लोगों को पता चला कि महिला की मौत कोरोना की वजह से हुई है तो कोई भी महिला के शव को ले जाने के लिए तैयार नहीं था। बताया गया है कि उसका शव दोपहर से ही घर के गाड़ी में पड़ा था मौत की जानकारी मिलने पर स्वास्थ विभाग की टीम आगरा के लिए रवाना हुई थी।

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने ही महिला सिपाही का अंतिम संस्कार करवाया। मीडिया में छपी खबर के अनुसार, महिला सिपाही विनीता चौधरी कानपुर जिले के बिल्हौर थाने में तैनाती थी गर्भवती होने की वजह से उसने 5 अप्रैल को छुट्टी ले ली थी और अपने ससुराल मैनपुरी जिले के सिकंदरा थाना क्षेत्र के ककरेठा के ईश्वर नगर चली आई थी। महिला सिपाही का पति रवि जीवन एक प्राइवेट नौकरी करता है।

परिजनों ने बताया कि बुधवार सुबह अचानक तबीयत बिगड़ने के बाद उसे रेनबो हॉस्पिटल ले जाया गया। लेकिन आरोप लगाया है कि अस्पताल कर्मियों ने महिला पुलिसकर्मी का इलाज करने से इंकार कर दिया था जिसके बाद महिला सिपाही की 12 बजकर 30 मिनट के लगभग मौत हो गई। वही महिला सिपाही की रिपोर्ट कोरोना पपॉजिटिव जैसे लोगों को इस बारे में पता चला तो लोगों ने शव से दूरी बना ली। गाड़ी में पड़े शव को कोई भी हाथ लगाने के लिए तैयार नहीं था। शव गाड़ी में काफी देर तक पड़ा रहा सूचना के बाद स्वास्थ विभाग की टीम अंतिम संस्कार कराने के लिए रवाना हुई थी।

Check Also

जम्मू और कश्मीर: त्राल में सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ में एक आतंकी को मार गिराया, सर्च ऑपरेशन जारी

जम्मू और कश्मीर: पुलवामा के त्राल क्षेत्र में मंगलवार सुबह सेना के जवानो की आतंकियों …