सुसाइड नोट में लिखकर पंखे से झूल गई महिला डॉक्टर, मेरे शव को पति हाथ भी न लगा पाए

0
8492
photo credit: upuklive
Loading...

गुजरात: गुजरात के सूरत के अडाजण में एक विवाहिता महिला डॉक्टर ने अपने बंगले में पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली। वही महिला डॉक्टर द्वारा लिखे सुसाइड नोट में चौकाने वाली बात लिखी है। सुसाइड नोट में महिला डॉक्टर ने लिखा है की मेरे पति मेरे शव को हाथ भी ना लगा पाए और न ही मेरे अंतिम संस्कार में शामिल हो। वही पुलिस इस मामले की गंभीरता से जाँच कर रही है।

अडाजल में शिवकुटीर स्थित बंगला नम्बर एक में रहने वाली महिला डॉ. मनाली (29) की 2013 में चिंतन पटेल से हुई थी। जो एक प्राइवेट मां एंड बेबी हॉस्पिटल में कार्यरत था। वही डॉ. मनाली के.पी. संघवी हॉस्पिटल में जॉब करती थी। खबर के अनुसार, चिंतन के घर वाले मनाली को काफी परेशान करते थे। जिसके चलते मनाली ने शुक्रवार की शाम को पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली।

मनाली की मौत के बाद उसकी मौसी की बेटी उर्मि ने बताया की उसके पति चिंतन से मन मोटाव के बाद लम्बे समय से दोनों अलग रह रहे थे। दोनों के बीच मामला सुलझाने की बहुत कोशिश की गयी लेकिन बात नहीं बनी। आखिर मनाली ने पंखे से लटककर अपनी जान दे दी।

उर्मि ने ये भी बताया की मनाली ने जो सुसाइड नोट लिखा उसे अपने भाई को व्हाट्सएप किया था लेकिन फ़ोन बंद होने के कारण उस तक पहुंच नहीं सका। अब पुलिस ने मनाली के मोबाइल को अपने कब्जे में लेकर जाँच शुरू कर दी है।

Loading...