9.5 लाख प्रवासी मजदूरों को राज्य में रोजगार देगी योगी सरकार, इन कंपनियों से होगा करार

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार अब लॉकडाउन की वजह से यूपी लौटे प्रवासी मजदूरों को राज्य में रोजगार देने जा रही है। इसके लिए योगी सरकार नेशनल रियल स्टेट डेवलपमेंट काउंसिल, कनफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री और इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन से करार करने जा रही है।

अब इंडियन इंडस्ट्रीज एसोसिएशन 5 लाख श्रमिकों को काम देगी, नेशनल रियल स्टेट डेवलपमेंट काउंसिल 2.5 लाख श्रमिकों को और कनफेडरेशन ऑफ इंडियन इंडस्ट्री 2 लाख श्रमिकों को रोजगार देंगी।

उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश सरकार विभिन्न राज्यों से कामगरों/श्रमिकों की सुरक्षित प्रदेश वापसी के लिए प्रतिबद्ध है।इसके लिए केन्द्र तथा राज्य सरकार द्वारा निशुल्क ट्रेन एवं बस की व्यवस्था करते हुए अब तक 27 लाख से अधिक कामगारों/श्रमिकों की सुरक्षित और सकुशल प्रदेश वापसी कराई गई है।

यह जानकारी आज यहां देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा सम्बंधित राज्य सरकारो से श्रमिकों/कामगारों की सूची उपलब्ध कराने का अनुरोध किया गया है, ताकि श्रमिकों/कामगारों की प्रदेश वापसी के लिए निःशुल्क ट्रेनों की व्यवस्था कराई जा सके ।उन्होने बताया कि पूरे देश से कामगारों/श्रमिकों के लिए निशुल्क ट्रेनों का संचालन आगे भी तब तक जारी रहेगा, जब तक वापस आने के इच्छुक कामगार/श्रमिक प्रदेश लौट नहीं आते।

Check Also

दिल्ली में अभी जारी रहेगा सर्दी का सितम, अगले दो दिन में बढ़ सकता है न्यूनतम तापमान

दिल्ली-एनसीआर में रहने वालों को भी ठंड से राहत मिलती नहीं दिख रही है। दिल्ली में …