महंत बनाम फकीर की लड़ाई में नहीं चला योगी का भगवा जादू, मुस्लिम धर्मगुरू ने दर्ज की जीत

0
520
Loading...

राजस्थान: राजस्थान विधानसभा चुनाव में एक सीट ऐसी भी रही जिस पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की इज्जत दाव पर लगी थी। बीजेपी ने राजस्थान के बाड़मेर की पोकरण विधानसभा सीट से तारातरा मठ के महंत प्रतापपुरी महाराज को उतारा था। वही कांग्रेस ने मुस्लिमों के धर्मगुरु गाजी फकीर के बेटे सालेह मोहम्मद को मैदान में उतारा था। जो बाड़मेर सीट जीत गए और योगी का भगवा जादू काम नहीं आया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बाड़मेर की पोकरण विधानसभा सीट जितने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा दी थी। वही इस सीट पर योगी को ‘स्टारडम’ के तौर पर देखा जा रहा था। यह सीट सबसे ज्यादा चर्चा में इसलिए थी की इस सीट पर महंत के सामने मुस्लिम फकीर की लड़ाई थी। इस सीट पर देखा जाये तो मुस्लिम के बाद सबसे ज्यादा वोट राजपूतों के है। यही कारण था की योगी आदित्यनाथ एक रात वहाँ रूक कर दूसरे दिन विशाल जनसभा को संबोधित किया था। लेकिन यहाँ से योगी को झटका देने वाले नतीजे सामने आये।

गौरतलब है की, राजस्थान के बाड़मेर की पोकरण विधानसभा सीट परमाणु टेस्ट की वजह स देश भर में जानी जाती है। जहाँ बीजेपी ने तारातरा मठ के महंत प्रतापपुरी महाराज को उतारा तो कांग्रेस ने मुस्लिमों के धर्म गुरु गाजी फकीर के बेटे सालेह मोहम्मद को मैदान में उतारा। जिसके बाद से राजनीती पूरी तहा बदलकर महंत बनाम फकीर में बदल गया। लेकिन भगवा जादू चल नहीं पाया और गाजी फकीर के बेटे सालेह मोहम्मद ने बाज़ी मार ली। इस सीट पर राजपुताना वोट 50 हजार तो वहीं मुस्लिम मतदाओं के वोट 54 हजार है।

Loading...