EU Presidents walk in for meeting in Turkey men take chairs woman left standing watch Video

0


तुर्की में महिलाओं का कितना सम्मान किया जाता है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि तुर्की का दौरा करने यूरोपीयन कमीशन के दो अध्यक्ष गए, मगर वहां राष्ट्रपति एर्दोआन के साथ बैठने के लिए कुर्सी सिर्फ पुरुष अध्यक्ष को दी गई। दरअसल, यूरोपीयन आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन अपने सहयोगियों और यूरोपीय संघ के शीर्ष अधिकारियों के साथ तुर्की का दौरा करने गईं थीं, मगर वहां उनके लिए तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोआन के साथ मीटिंग के दौरान एक कुर्सी का इंतजाम नहीं था। बाद में उन्हें किसी तरह एक सोफे पर बैठना पड़ा। 

दरअसल, बुधवार को अंकारा यात्रा के दौरान यूरोपीयन आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन और यूरोपीय यूनियन के अन्य टॉप अधिकारियों की तुर्की के राष्ट्रपति एर्दोआन के साथ मीटिंग थी। जब तुर्की के राष्ट्रपति, आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन, काउंसिल अध्यक्ष माइकल और उनके कलीग के साथ एक रूम में गए, तब वहां महज दो ही कुर्सियां थीं। 

जैसे ही मीटिंग रूम में सभी पहुंचे, तुर्की के राष्ट्रपति और यूरोपीयन काउंसिल के प्रेसीडेंट माइकल तपाक से जाकर उन कुर्सियों पर बैठ गए। अब हां दो कुर्सी और उस पर भी दोनों पुरुषों को बैठे देखखर उर्सुला वॉन डेर लेयेन के लिए अजीब सी स्थिति बन गई। इस दृश्य को देखकर वह आश्चर्य में पड़ गईं। कुछ देर तक वह सोचने लगीं कि आखिर वह कहां बैठेंगी।

मीटिंग में यूरोपीयन काउंसिल के प्रेसीडेंट माइकल और तुर्की राष्ट्रपति कुर्सी पर जाकर बैठ चुके थे और इस दौरान उर्सुला वॉन डेर लेयेन बीच में सबके सामने खड़ी रहीं। हालांकि, बाद में उन्हें रूम में ही मौजूद सोफा पर बैठाया गया। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। मीटिंग रूम में इकलौती महिला नेता उर्सुला वॉन डेर लेयेन के साथ इस अजीब से मोमेंट को देखा जा सकता है और वह किस तरह से आश्चर्य प्रकट करती हैं, इसे भी सुना जा सकता है। 

यूरोपीय यूनियन एग्जीक्यूटिव की प्रवक्ता एरिक मेमर ने कहा कि इस घटना को लेकर कमीशन की अध्यक्ष पूरी तरह से हैरान थीं। उन्होंने आगे कहा कि अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन को ठीक उसी तरह से बैठाया जाना चाहिए था, जिस तरह से यूरोपीय काउंसिल के अध्यक्ष और तुर्की के राष्ट्रपति एक साथ कुर्सी पर बैठे थे। इस घटना को लेकर ट्विटर पर लोगों में गुस्सा भी है। महिला नेता का तुर्की में सम्मान न किए जाने को लेकर पूरे यूरोप में ट्विटर पर आवाज उठाई जा रही है और हैशटैग #GiveHerASeat ट्रेंड कर रहा है। इस वीडियो को शेयर कर लोग अलग-अलग तरह से कमेंट कर रहे हैं।





Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।