Mrs Sri Lanka winner suffers head injuries as ex title holder grabs her crown on stage Watch Video

0


श्रीलंका में उस समय हैरान करने वाली घटना हुई, जब मिसेज श्रीलंका का खिताब देने के दौरान हंगामा मच गया। दरअसल, पुष्पिका डी सिल्वा को मिसेज श्रीलंका का खिताब मिला था, तभी उनकी प्रतिद्वंद्वी ने उनके सिर पर सजा क्राउन खींच लिया। इस दौरान 31 वर्षीय सिल्वा के सिर पर चोट भी लग गई। प्रतिद्वंद्वी का आरोप था कि चूंकि डी सिल्वा एक तलाकशुदा हैं, इस वजह से वह मिसेज श्रीलंका नहीं बन सकती हैं। यह इस कार्यक्रम का पूरे श्रीलंका में नेशनल टीवी पर प्रसारण किया गया। अब इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

31 वर्षीय ब्यूटी क्वीन पुष्पिका डी सिल्वा ने साल 2020/2021 का मिसेज श्रीलंका खिताब जीता था। उन्हें कोलंबो में आयोजित एक कार्यक्रम में यह खिताब दिया गया। वायरल वीडियो के अनुसार, मिसेज श्रीलंका का साल 2019 का खिताब जीतने वालीं कैरोलीन जूरी माइक लेकर दिखाई देती हैं। वहां मौजूद दर्शकों से कैरोलीन कहती हैं कि यहां नियम है कि जो महिला शादीशुदा है और उसका तलाक हो चुका है, उसे यह खिताब नहीं मिल सकता है। इस वजह से मैं इस क्राउन को दूसरे नंबर पर आने वाली को पहना रही हूं। 28 वर्षीय कैरोलीन ने इतना कहते ही डी सिल्वा के सिर पर लगा क्राउन खींच लिया, जिसके बाद स्टेज पर हंगामा हो गया। क्राउन को खींचते समय डी सिल्वा के बालों में फंस गया और उन्हें सिर पर चोट भी लग गई।

मिसेज श्रीलंका का क्राउन सिल्वा के सिर से निकालने के बाद रनर-अप को पहना दिया। फुटेज में देखा जा सकता है कि भावुक सिल्वा तुरंत ही स्टेज से चली गईं और उन्होंने इस पूरी घटना को अनुचित और अपमानजनक करार दिया। हालांकि, बाद में आयोजकों ने बताया कि चूंकि डी सिल्वा सेपरेटेड हैं, नाकि तलाकशुदा, इसलिए उन्हें उनका खिताब वापस कर दिया गया। नेलुम पोकुना महिंदा राजपक्षे थिएटर में हुई इस अप्रत्याशित घटना के बाद से एक फेसबुक पोस्ट में डी सिल्वा ने बताया कि उन्हें सिर की चोट के लिए इलाज करवाना पड़ा। सिल्वा ने कहा, ”मैं अभी भी अन-डायवोर्स्ड महिला हूं।”

उन्होंने आगे कहा, ”मैंने कानून कार्रवाई शुरू कर दी है। मैं कहती हूं कि वह महिला सही क्वीन नहीं होती है जोकि दूसरी महिला के सिर से क्राउन खींच ले।” हालांकि, इस घटना के बाद आयोजकों ने डी सिल्वा से माफी मांगी और कॉम्प्टीशन के नेशनल डायरेक्टर चांदीमल जयसिंग्ले ने घटना को अपमानजनक करार दिया।





Note- यह आर्टिकल RSS फीड के माध्यम से लिया गया है। इसमें हमारे द्वारा कोई बदलाव नहीं किया गया है।